Sshree Astro Vastu

वैदिक ज्योतिष के अनुसार ये ग्रह करते हैं आपकी आर्थिक दशा प्रभावित

वित्तीय समस्याओं को ऐसे करें दूर

जीवन में सफलता प्राप्ति के लिए संघर्ष को आवश्यक माना गया है। लेकिन कई बार कड़ी मेहनत के बावजूद, हम अपने लक्ष्यों में सफल नहीं हो पाते हैं और वित्तीय कठिनाइयाँ उत्पन्न होने लगती हैं। जबकि कुछ लोग ऐसे भी होते हैं, जो आसानी से सफलता पा जाते हैं।

 

ऐसे में एक ओर जहां कुछ जानकारों का मानना है कि कई लोगों को छोटी चीजें खरीदने के लिए भी ऋण लेने की आदत होती है, और यही एक मुख्य कारण है जो व्यक्ति को आर्थिक रूप से कमजोर बनाती है। एक तो इस पर ब्याज देना पड़ता है और इससे बाद में व्यक्ति पर बहुत अधिक वित्तीय बोझ पड़ता है। वित्तीय समस्याओं को जन्म देने वाले कुछ मुख्य कारण

भारी कर्ज,लंबित ऋण,क्रेडिट कार्ड बिल,व्यापार में घाटा,दिवालिया होना,अनावश्यक चीजों पर पैसा खर्च करना। जबकि ज्योतिष में आपकी आर्थिक दशा को प्रभावित करने वाले कुछ खास ग्रह माने जाते हैं, जो आपको अत्यंत अमीर से लेकर अत्यंत दरिद्र तक बना सकता है

 

इस संबंध में दरअसल कर्ज लेने से लेकर क्रेडिट कार्ड बिल या लंबित ऋण या व्यापार में घाटा तो कई अमीर लोगों के साथ भी लगा ही रहता है, ऐसे में केवल इन चीजों को दोष देना उचित नहीं है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार दरअसल कुछ ग्रह ऐसे होते हैं, जो लगातार आपकी आर्थिक स्थिति को प्रभावित करते रहते हैं।

 

ऐसे में कई बार देखा जाता है कि जातक लगातार बचत करता है, किसी तरह का लोन या अन्य चीजें भी नहीं लेता, लेकिन एक अच्छी स्थिति का धन उसके पास जमा होने के साथ ही वह धन उसके पास से निकलना शुरू कर देता है, चाहे उसको अस्पातल में खर्चा करना पड़े या किसी और जगह…

 

ये सारी स्थितियां आपके ग्रहों के आधार पर होती हैं, क्योंकि जहां आप अपने धन को जमा करते है। वहीं ये ग्रह अपना असर दिखाना शुरू कर देते हैं और आपको वापस पूरानी जगह के आसपास तक ले जाते हैं।

 

ऐसे समझें वित्तीय समस्याओं के लिए जिम्मेदार ग्रह…

  1. मंगल: मंगल उन मुख्य ग्रहों में से एक है जो किसी व्यक्ति के जीवन में ऋण और धन की समस्याओं का कारण बनता है। जब यह 6वें, 8वें और 10वें घर जैसे घरों के साथ जुड़ता है, तो यह व्यक्ति को अति आत्मविश्वास देकर मूर्ख बनाता है। इसलिए, व्यक्ति गलत निर्णय लेता है जो बदले में उनकी वित्तीय स्थिरता को नुकसान पहुंचाता है। 6वें घर में मंगल की उपस्थिति ऋण को जन्म देती है।

 

  1. राहु: इसे सभी 9 ग्रहों में से एक सबसे रहस्यमय और गुप्त ग्रह माना जाता है। यदि राहु लाभकारी घर में मौजूद है, तो यह आपको सभी संभव तरीकों से लाभान्वित करने में मदद करेगा और आप कभी भी कर्ज में नहीं रहेंगे। हालांकि, राहु की नियुक्ति छोटे शब्दों में ऋण का संकेत देती है और व्यक्ति आर्थिक रूप से कमजोर महसूस कर सकता है।

 

ये हैं उपाय : भगवान हनुमान की पूजा करें

श्रीलक्ष्मी नारायण ज्योतिष सेवा संस्थान के अनुसार यदि आप वास्तव में अपने सभी ऋणों को समाप्त करना चाहते हैं, तो हर मंगलवार को हनुमान मंदिर जाएं और हनुमान चालीसा का पाठ करें। माना जाता है कि यह आपको किसी भी प्रकार की वित्तीय परेशानी से लड़ने और जीवन में समृद्धि प्राप्त करने के लिए आंतरिक रूप से मजबूत बनाएगा। यह भी सलाह दी जाती है कि मंगलवार को मांसाहारी खाना न खाएं।

 

सूर्यदेव : इसके अलावा बहुत सारे ऋण और बंधक से छुटकारा पाने का एक और तरीका बताया जाता है, इसके अनुसार सुबह सूर्यदेव की पूजा करें। साथ ही सूर्य नमस्कार के समय सूर्य को जल चढ़ाएं और प्रतिदिन 108 बार ‘नमः शिवाय, ओम नमः शिवाय’ मंत्र का जाप करें। ऐसा माना जाता है कि यह निश्चित रूप से आपकी वित्तीय स्थिरता को बेहतर बनाने में मदद करेगा,

 

कुंडली विश्लेषण के लिए अवश्य सम्पर्क करे।

आप सभी लोगों से निवेदन है कि हमारी पोस्ट अधिक से अधिक शेयर करें जिससे अधिक से अधिक लोगों को पोस्ट पढ़कर फायदा मिले |
Share This Article
×