Sshree Astro Vastu

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार निकट भविष्य में शेयर बाजार में मंदी आने की संभावना है

चूंकि शेयर बाजार चार्ट का तकनीकी विश्लेषण भविष्य की स्थिति का अनुमान लगा सकता है।  इसी प्रकार ग्रहों की चाल से भी भविष्य का अनुमान लगाया जाता है।  जिस तरह से अभी आकाश में ग्रहों की चाल चल रही है, उसके मुताबिक अगले एक से डेढ़ साल में जबरदस्त मंदी आ सकती है।  9 से 12 फरवरी के बीच शेयर बाजार में गिरावट शुरू होने की संभावना है और 26 फरवरी तक गिरावट जारी रह सकती है।  23 या 26 फरवरी को शेयर बाजार में गिरावट आ सकती है।

 शेयर बाजार में अस्थिरता का कारण बुध है और मंदी का कारण शनि है।  9 फरवरी से बुध अस्त हो रहा है।  बाज़ार का नियम रहा है कि जब भी बुध अस्त होता है तो बाज़ार टूट जाता है।  9 फरवरी को जब बुध अस्त होगा तो वह अमास का दिन होगा।  इसलिए 9 फरवरी से बाजार में गिरावट की संभावना है।

 12 फरवरी से शनि अस्त होंगे।  शेयर बाजार की प्रारंभिक घंटी कुंडली में शनि लग्नेश बन जाता है।  जैसे-जैसे 12वीं के बाद इसमें गिरावट आती है, बाजार में ब्रेकआउट की संभावना कई गुना बढ़ जाती है।  पहले भी लग्नेश के नीच होने पर बाजार टूटते देखा गया है।

 24 अक्टूबर 1929 को जब अमेरिकी बाज़ार धराशायी हुआ, लग्नेश मंगल अस्त था। 

 

 16 मई 2006 को जब बाज़ार टूटा तो लग्नेश बुध अस्त था।  सेंसेक्स 826 अंक गिरकर 11,391 पर आ गया. 

 

 18 अगस्त 2007 को जब बाज़ार टूटा तो लग्नेश बुध अस्त था।  साथ ही शुक्र भी वक्री और अस्त था।  साथ ही शनि भी अस्त चल रहा था।  सेंसेक्स 3.8 फीसदी गिर गया.

दिसंबर 2007 को जब दुर्घटना हुई तब बुध और बृहस्पति दोनों अस्त थे।  3.8 फीसदी की और गिरावट. 

 

 24 अक्टूबर 2008 को सेंसेक्स 1070 अंक टूटा।  प्रतिशत में 10.95 प्रतिशत.  तब लग्नेश मंगल अस्त थे। 

 

 2 फरवरी, 2018 को जब बाजार दुर्घटनाग्रस्त हुआ तो बुध और शुक्र दोनों अस्त थे।  बजट का दूसरा दिन था और सेंसेक्स 570 अंक गिर गया. 

 

 शास्त्रोक्त फल के अनुसार शनि जब कुम्भ राशि में होता है तो एक वर्ष के लिए अस्त होता है।  उसके बाद डेढ़ साल तक मंदी रहती है.  जनवरी 2023 से शनि कुम्भ राशि में है।  तब से एक साल के दौरान हमने बाजार में तेजी देखी है।  इस भविष्यवाणी के मुताबिक अगले डेढ़ साल में बाजार में मंदी रहेगी.  शास्त्रोक्त फल के अनुसार जब बृहस्पति मेष राशि में होता है तो अवसाद होता है।  बृहस्पति मई महीने तक मेष राशि में रहने वाला है।  इसलिए 9 फरवरी से 1 मई तक शेयर बाजार में गिरावट और मंदी की आशंका है।

आप सभी लोगों से निवेदन है कि हमारी पोस्ट अधिक से अधिक शेयर करें जिससे अधिक से अधिक लोगों को पोस्ट पढ़कर फायदा मिले |
Share This Article
×