Sshree Astro Vastu

Govt Job

सरकारी नौकरी तैयारी करें या नही। हम में से बहुत सारे लोग कई तरह की सरकारी नौकरीयो जैसे आईएएस, आईपीएस, तहसीलदार, एसडीएम, डीएम, लेखपाल और अन्य कई तरह की सरकारी नौकरीयो में जाने के लियर प्रयास करते रहते है लेकिन सफलता तब ही मिलती है जब सरकारी नौकरी और जिस पद की सरकारी नौकरी के लिये आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे हो उसके कुंडली मे योग हो वरना नही मिल पाती सरकारी नौकरी।

कुंडली का 10वा भाव और 10वे भाव स्वामी सरकारी नौकरी का, प्राइवेट नौकरी और बिजनेस आदि इन सभी का है अब अगर किसी तरह की सरकारी नौकरी, सरकारी पद प्राप्ति के लिए प्रयास कर रहे है तो कुंडली मे दसवाँ भाव/ दसवें भाव स्वामी कुंडली मे बलवान होकर सरकारी नौकरी के कारक कुंडली मे बलवान सूर्य से सम्बन्ध में हो तब सरकारी नौकरी के लिए तैयारी करना उचित होगा  अगर सूर्य  का सम्बन्ध बलवान स्थिति में नही है तब सरकारी नौकरी प्रयास करना समय खराब करना है ऐसी स्थिति में अन्य जिस भी तरह के कैरियर या रोजगार क्षेत्र में सफलता कुण्डली में बन रही हो उसी क्षेत्र में आगे बढ़ने से कैरियर सफलता मिलेगी।

अब कुछ उदाहरणों से समझते है कि सरकारी नौकरी की तैयारी करें या नही और करें तो कौन सी सरकारक नौकरी मिलना लिखा है आपके भाग्य में आड़ और सरकारी नौकरी योग नही है तो किस क्षेत्र की तैयारी प्राइवेट नौकरी की तैयारी करे  या बिजनेस है भाग्य में तो किस तरह के बिजनेस की तैयारी करें।।                                            

 

उदाहरण_अनुसार_वृष_लग्न1:-

वृष लग्न में दसवें भाव स्वामी शनि है अब शनि कुंडली मे बलवान होकर सरकारी नौकरी के कारक सूर्य से सम्बन्ध बनाकर बैठे हो और सूर्य भी बलवान हो तब सरकारी नौकरी के लिए सफलता जरूर मिल जाएगी ,सरकारी नौकरी मिलने में ,अब यहाँ दसवे भाव स्वामी(कार्य क्षेत्र स्वामी)शनि निर्धारित करेगा किस तरह की सरकारी नौकरी मिलेगी, उदाहरण शनि अगर यहाँ सूर्य सहित तीसरे भाव मे मंगल के साथ भी संबध में हो तब आईपीएस, पुलिस , मीडिया, रेलवे में सरकारी नौकरी मिल पाएगी।                                                                

 

उदाहरण_अनुसार_कन्या_लग्न2:-

कन्या लग्न में10वे भाव स्वामी बुध कुंडली मे बलवान होकर सरकारी नौकरी के कारक सूर्य के साथ सम्बन्ध बनाकर बैठा हो या इसके अलावा दसवें भाव मे सूर्य शुभ स्थिति में बैठा हो तब सरकारी नौकरी मिल जाएगी, सरकारी नौकरी प्रयास करना सही रहेगा,अगर दसवें भाव या दसवें भाव स्वामी बुध से सूर्य से सम्बन्ध कुंडली मे नही बन पा रहा है तब सरकारी नौकरी प्रयास करना व्यर्थ होगा, सरकारी नौकरी नही मिल पाएगी, जिस भी तरह के कार्य क्षेत्र में सफलता  के योग बने होंगे उसमे कैरियर में आगे बढ़ने पर अच्छी सफलता मिल पाएगी।।                               

 

उदाहरण_अनुसार_कुम्भ_लग्न3:-

कुम्भ लग्न में दसवें भाव स्वामी मंगल कुंडली मे बलवान होकर सूर्य के साथ सम्बन्ध बनाकर बैठा हो और सूर्य भी कुंडली मे बलि हो तब सरकारी नौकरी मिल जाएगी, अगर सूर्य का सम्बन्ध 10वे भाव या 10वे भाव स्वामी से सम्बंध बन रहा है तब सरकारी नौकरी मिल जाएगी।वरना यह स्थिति नही है तब कुंडली मे जो भी स्थिति बन रही होगी कार्यक्षेत्र की उस कार्यक्षेत्र में सफलता मिल जाएगी।

error: Content is protected !!
×